विश्व के बदलते परिवेश तथा जलवायु परिवर्तन के मद्देनजर वन्यजीवों को बचाने के लिए मिलकर काम करने की आवश्यकता,रजनीश कुमार शर्मा

रूडकी।बीएसएम पीजी कॉलेज के एनएसएस यूनिट द्वारा “विश्व वन्यजीव दिवस” की श्रंखला में एक दिवसीय कैम्प का आयोजन किया गया।कॉलेज के निदेशक रजनीश कुमार शर्मा ने अपने संदेश द्वारा छात्रों का आह्वान किया कि विश्व के बदलते भौगोलिक परिवेश तथा जलवायु परिवर्तन के मद्देनजर वन्यजीवों को बचाने के लिए सब को मिलकर अपना योगदान देने की जरूरत है।कॉलेज के प्राचार्य डॉ.गौतम वीर ने कहा कि उत्तराखंड में बढ़ते कारखानों,फैक्टरियों व स्टोन क्रेशरों से जहां पर्यावरण को बहुत नुकसान हुआ,वहीं वन्यजीवों के पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है,जिस पर एनजीटी ने भी विशेष संज्ञान लिया है।

इस अवसर पर स्वयंसेवकों ने वन्यजीवों की उपयोगिता के बारे में अपने विचार प्रस्तुत किए और बताया कि कैसे खाद्य श्रंखला में वन्यजीवों का महत्व है।कॉलेज राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डॉ.संदीप पोसवाल ने छात्रों को वन्यजीवों की महत्ता के बारे में बताते हुए वन्यजीवों की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेश आ रही समस्याओं के बारे में विस्तार से अवगत कराया।कॉलेज प्रबंधन और प्रशासन का कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष सहयोग रहा।कालेज डायरेक्टर रजनीश कुमार शर्मा,प्राचार्य डॉ.गौतम वीर,कॉलेज के प्राध्यापक डॉक्टर सरदार सुरजीत सिंह गाँधी,डॉ,अलका तोमर,डॉ. अर्चना त्यागी,डॉ.सुनीता कुमारी,डॉ.सुरेश कुमार,डॉक्टर पारूल जैन,डॉ.शिखा जैन,प्रो.भरत अरोरा,प्रोफेसर संजय धीमान,डॉ.परविंदर शास्त्री,डॉ.सुनीता कश्यप,सुश्री शाइना मलिक,कॉलेज के कार्यालय कर्मचारी राम कुमार शर्मा,अभय कुमार,विकास शर्मा,देव आनंद शर्मा,कामेश कुमार,अभिषेक कुमार,प्रवीण अग्रवाल का विशेष सहयोग रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!