*संयुक्त मोर्चे ने दूसरे राज्य छतीसगढ़ सरकार द्वारा पुरानी पेंशन बहाल करने के ऐतिहासिक फैसले का किया स्वागत*

हरिद्वार, राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चे के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीपी सिंह रावत, प्रांतीय महामंत्री श्री सीताराम पोखरियाल मोर्चे के

 

जिलाअध्यक्ष डॉ0 नवीन सैनी ने राजस्थान के बाद अब छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाल करने के ऐतिहासिक फैसले का स्वागत किया है। मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीपी सिंह रावत का कहना है कि पुरानी पेंशन प्रत्येक कार्मिक का अधिकार है इसलिए यह पूरे देश में लागू की जानी चाहिए। अब राजस्थान के बाद छतीसगढ़ सरकार के इस फैसले से अन्य राज्य सरकारें और केंद्र सरकार भी पुरानी पेंशन के महत्व को समझेगी और बाजार आधारित नई पेंशन योजना को समाप्त करेगी। राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के जिलाअध्यक्ष हरिद्वार डॉ0 नवीन सैनी ने कहा कि मोर्चा गत 02 वर्षों से लगातार पुरानी पेंशन बहाली की मांग को हर मंच से उठा रहा है इस हेतु हमने सड़क से सदन तक सरकारों को चेताया है,मोर्चे ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्रियों को अभियान के तहत 80 हजार पोस्टकार्ड भी भेजे थे हम अब माननीय अशोक गहलोत जी के बाद छतीसगढ़ सरकार के इस फैसले का स्वागत करते हैं और उम्मीद करते है कि अपने उत्तराखंड में भी कल 10 मार्च को परिणाम के उपरांत नई सरकार पुरानी पेंशन को विधायकों की तरह ही राज्य कर्मचारियों के लिए भी लागू करेगी, जिला मंत्री संदीप शर्मा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में भी मोर्चे ने यह मुद्दा दलों के द्वारा प्रमुखता से उठवाया है। सभी दलों ने इस बात को माना कि पुरानी पेंशन कर्मचारी का अधिकार है। संरक्षक विवेक सैनी ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों द्वारा इसे पहले विधानसभा सत्र में पारित कराने की बात भी कही गई है जबकि करण मेहरा जी इस मुद्दे को सदन में दमदार तरीके से उठाते रहे हैं अतः अब राज्य सरकार को भी राजस्थान व छतीसगढ़ की तर्ज पर पेंशन बहाल करने में आसानी होगी। मोर्चे की जिला उपाध्यक्षा डॉ0 रक्षा रतूड़ी ने पांचवीं विधानसभा के पहले ही विधानसभा सत्र में पुरानी पेंशन बहाली की उम्मीद जताई और यह भी आशा जताई कि सभी राजनीतिक दल पुरानी पेंशन बहाली में सहयोग करेंगे और यह प्रस्ताव सर्वसम्मति से उत्तराखंड में भी जल्द पारित होगा। राज्य चतुर्थ श्रेणी चिकित्सा विभाग के प्रदेश अध्यक्ष श्री दिनेश लखेड़ा ने कहा पेंशन वास्तव में कर्मचारियों का अधिकार और बुढ़ापे का सहारा है सरकार को OPS पुनः लागू करनी चाहिए इस मौके पर जिला अध्यक्ष डॉ0 नवीन सैनी ने उन सभी कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया जो इस आंदोलन से प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से लगातार जुड़े हुए हैं,मोर्चा के पदाधिकारियों प्रवीण जटराणा, कुंज बिहारी, सतीश सैनी, विजय सक्सेना,अजय कुमार,लाल सिंह,मांगेराम,मानसिंह, तरुण शर्मा, सुनीता,सुषमा थपलियाल,जयंती रावत,मनोज सैनी, भूपेंद्र सिंह,संदीप सिंह, आदि ने भी छतीसगढ़ सरकार के इस फैसले पर खुशी जताई एवम आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!