रुड़की के हरीश चांदना प्रकरण में एसएसपी ने दी अनोखी सजा,

Getting your Trinity Audio player ready...

रुड़की के हरीश चांदना प्रकरण में एसएसपी ने दी अनोखी सजा, अंत्येष्टि में सहयोग करेंगे दरोगा और सिपाही कुछ दिन पूर्व गंगनहर थाना क्षेत्रांतर्गत एक घटना हुई थी जिसमे एक व्यक्ति की रेल की चपेट में आने से मृत्यु हो गई थी। जिसका गंगनहर पुलिस द्वारा बाद पोस्टमार्टम क्रियाकर्म किया गया था।मृत व्यक्ति के संबंध में थाना स्तर से गुमशुदगी दर्ज करने में अनावश्यक देरी की बात सामने आने पर एसएसपी हरिद्वार श्री अजय सिंह द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच की जिम्मेदारी एसपी ग्रामीण स्वप्न किशोर को दी थी।जांच उपरांत एसपी ग्रामीण स्वप्न किशोर द्वारा प्रकरण कर्मियों में परस्पर संवाद की कमी, अज्ञात शव की पहचान के लिए पर्याप्त प्रयास न करने व अनजाने में लापरवाही बरतने का नतीजा बताया। जिस पर एसएसपी हरिद्वार द्वारा एसएचओ गंगनहर को अंजाने में हुई लापरवाही पर कड़ी फटकार लगाते हुए कोतवाली गंगनहर में तैनात उपनिरीक्षक नवीन सिंह व थाना कार्यालय में तैनात कांस्टेबल चेतन सिंह तथा संतोष को दिनांक 14-11-2022 व 15-11-2022 को क्रमशः खड़खड़ी घाट, सती घाट व चण्डीघाट पर आठ-आठ घंटे मौजूद रहकर आने वाले शवों के शवदाह में सहयोग करने का मानसिक/भावनात्मक/सामाजिक दण्ड दिया गया ताकि हरीश चांदना प्रकरण में बरती गई लापरवाही का कर्मियों को पश्चाताप हो व अपनी दिन-रात की नौकरी के बीच सामाजिक व्यवस्थाओं एवं उनमें अंतर्निहित भावनाओं को कर्मचारीगण समझें व भविष्य में ऐसी लापरवाही की पुनरावृति न हो।

error: Content is protected !!