भर्ती के लिए युवाओं को अविवाहित होने का प्रमाण पत्र प्राप्त दिखाना पड़ रहा है

Getting your Trinity Audio player ready...

हरिद्वार: उत्तराखंड (Uttarakhand) में सेना में भर्ती होने का सपना संजोए युवाओं के लिए अग्निवीर भर्ती रैली (Agniveer Recruitment Rally) शुरू हो चुकी है. यहां के कोटद्वार में भर्ती रैली को लेकर भारी संख्या में युवा पहुंच रहे हैं.भर्ती के लिए युवाओं को अविवाहित होने का प्रमाण पत्र प्राप्त दिखाना पड़ रहा है, लेकिन अविवाहित होने का प्रमाण पत्र इनके लिए असंभव हो गया है.इधर से उधर भटक रहे युवा दरअसल अविवाहित होने का प्रमाण पत्र पहले ग्राम प्रधान जारी कर देते थे, लेकिन हरिद्वार में खटाई में पड़े पंचायत चुनाव के चलते ग्राम प्रधान अस्तित्व में ही नहीं है. ऐसे में इसकी जिम्मेदारी तहसील प्रशासन पर आ जाती है, लेकिन तहसील प्रशासन ने इन्हें अविवाहित होने का प्रमाण पत्र जारी करने से साफ मना कर दिया है. ऐसे में ये जाएं तो जाएं कहां. मजबूर युवा इधर से उधर भटक रहे हैं.रुड़की के तहसीलदार के अनुसार तहसील कभी भी अविवाहित होने का प्रमाण पत्र जारी नहीं करती. क्योंकि इसके लिए पूरी प्रक्रिया ही अलग है. लिहाजा जब तक इस संबंध में कोई अलग से आदेश जारी नहीं होते तब तक तहसील प्रशासन कुछ नहीं कर सकता है. रुड़की तहसील प्रशासन के रुख के चलते अग्निवीर योजना के अभ्यर्थियों के साथ धोखा हो रहा है.अग्निवीर भर्ती के जरूरी दस्तावेज उत्तराखंड (Uttarakhand) के कोटद्वार में आयोजित हो रही इस अग्निवीर भर्ती रैली (Agniveer Recruitment Rally) में शामिल होने के लिए अभ्यर्थियों को कुछ जरूरी दस्तावेज भी देने होंगे. जिसमें उनका एडमिट कार्ड, 10वीं या 12वीं पास का शैक्षिक प्रमाणपत्र, 20 पासपोर्ट साइज फोटो, जाति प्रमाण पत्र, धर्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, स्कूल का चरित्र प्रमाण पत्र और ग्राम प्रधान या सरपंच से जारी अविवाहित होने का प्रमाण पत्र.

error: Content is protected !!