जयपुर में चंद्रशेखर आजाद रावण की गिरफ्तारी के विरोध में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने रुड़की में प्रदर्शन किया.

Getting your Trinity Audio player ready...

जयपुर में चंद्रशेखर आजाद रावण की गिरफ्तारी के विरोध में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने रुड़की में प्रदर्शन किया. कार्यकर्ताओं ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के आवास के बाहर धरना दिया और राष्ट्रपति को एक ज्ञापन भेजा.कार्यकर्ताओं ने आजाद को तुरंत रिहा ना करने पर पूरे देश में उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है.हरिद्वार के रुड़की में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के आवास के बाहर भीम आर्मी कार्यकर्ताओं ने पार्टी संस्थापक चंद्रशेखर रावण की गिरफ्तारी के विरोध में धरना दिया. इस दौरान मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा. भीम आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष महक सिंह ने कहा कि राजस्थान में कोविड सहायक कर्मचारियों के समर्थन में धरना देने जा रहे चंद्रशेखर आजाद रावण को गहलोत सरकार के इशारे पर राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.भीम आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष ने इसे असंवैधानिक बताया और कहा कि इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने इस संबंध में ज्वॉइंट मजिस्ट्रेट के माध्यम से एक ज्ञापन राष्ट्रपति को भेजा है. हालांकि, ज्ञापन लेने अपर उपजिला मजिस्ट्रेट रुड़की विजयनाथ शुक्ल मौके पर पहुंचे थे. इस दौरान मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा, साथ ही यातायात भी बाधित रहा है.ये है मामलाः राजस्थान के जयपुर में भीम आर्मी के संस्थापक एवं आजाद समाज पार्टी अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद रावण को शनिवार रात जयपुर पुलिस ने धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. चंद्रशेखर रावत जयपुर के शहीद स्मारक पर चल रहे कोविड सहायकों की नौकरी के आंदोलन में शामिल होने जयपुर पहुंचे थे. पिछले काफी दिनों से सैकड़ों कोविड सहायक आंदोलन कर रहे हैं.भीम आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष महक सिंह ने कहा कि चंद्रशेखर रावण दबे कुचले लोगों की आवाज उठाने का काम करते हैं और सदैव अन्याय के खिलाफ लड़ाई लड़ते हैं. लेकिन चाहे भाजपा की या कांग्रेस की सरकार हो, वह सदैव उनकी आवाज दबाने का काम करती हैं. उन्होंने कहा कि आजाद को तुरंत रिहा ना किया गया तो पूरे देश में उग्र आंदोलन होगा

error: Content is protected !!