रुड़की के सामूहिक दुष्कर्म में भाकियू टिकैत की युवा इकाई के मंडल अध्यक्ष सुबोध काकरान और पूर्व मंडल महासचिव विक्की तोमर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दोनों पदाधिकारियों को भाकियू से भी निष्कासित कर दिया गया है।

Getting your Trinity Audio player ready...

पुलिस जांच में सामने आया है कि दोनों भाकियू का झंडा लगी गाड़ी से रुड़की पहुंचे थे।उत्तराखंड के रुड़की में 24 जून की रात महिला और उसकी पांच साल की बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात अंजाम दी गई थी। पुलिस वारदात के आरोपियों की तलाश में जुटी थी। पुलिस जांच में सामने आया कि वारदात में भाकियू टिकैत की युवा इकाई के मंडल अध्यक्ष वहलना गांव निवासी सुबोध काकरान और भोपा थाना क्षेत्र के बेलड़ा गांव निवासी वर्तमान में शहर के शांतिनगर में रह रहे पूर्व मंडल महासचिव विक्की तोमर भी शामिल थे। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। भाकियू टिकैत के मंडल अध्यक्ष नवीन राठी ने बृहस्पतिवार को सुबोध काकरान और विक्की तोमर को संगठन से निष्कासित कर दिया है।

रुड़की में जश्न मनाने पहुंचे थे भाकियू नेता

भाकियू नेता वहलना गांव निवासी सुबोध काकरान को युवा इकाई का मंडल अध्यक्ष बनाए जाने का अधिकारिक पत्र 25 जून को जारी हुआ था। संगठन में पद मिलने की चर्चा सुबोध तक पहुंची। बताया जा रहा है कि मंडल अध्यक्ष बनाए जाने की खुशी में ही वह रुड़की अपने साथियों के साथ जश्न मनाने पहुंचे थे। इसी दौरान वारदात में शामिल हो गए।

सोशल मीडिया पर दिनभर रही चर्चा

वारदात में शामिल भाकियू टिकैत के नेताओं की दिनभर सोशल मीडिया पर चर्चा बनीं रही। किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने अलग-अलग प्रतिक्रियाएं व्यक्त की।

पुलिस और कानून करेगी अपना काम : योगेश शर्मा

भाकियू जिलाध्यक्ष योगेश शर्मा ने कहा कि दोनों पदाधिकारियों को संगठन से निकाल दिया गया है। आरोप गंभीर है। पुलिस और कानून अपना काम करेगी। संगठन ऐसे लोगों का समर्थन नहीं करता।

चर्चाओं में बने हुए हैं भाकियू टिकैत के पदाधिकारी

भाकियू टिकैत के पदाधिकारी पिछले कई माह से आपराधिक वारदातों में चर्चा का विषय बने हुए हैं। दो पदाधिकारी रुड़की में सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में पकड़े गए। भाकियू युवा नेता शक्ति सिंह पर कोर्ट अमीन के साथ मारपीट का आरोप लग चुका है। इससे पहले होटल पर भाकियू नेताओं ने मारपीट की थी। अस्पताल से आरोपियों को छुड़ाने के भी आरोप लग चुके है। इसके बाद भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कोतवाली में धरना प्रदर्शन किया था।

error: Content is protected !!