रोडवेज के वरिष्ठ केंद्र प्रभारी विवेक कपूर की संदिग्ध बुखार से मौत हो गई। उनका इलाज एम्स ऋषिकेश में चल रहा था।

Getting your Trinity Audio player ready...

रोडवेज के रुड़की डिपो में तैनात वरिष्ठ केंद्र प्रभारी कपूर एक पखवाड़े से अधिक समय से बुखार से पीड़ित चल रहे थे।पहले उनका रुड़की में उपचार कराया गया। चौदह नवंबर को हालत बिगड़ने पर उन्हें एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया। बताया गया कि एम्स में वह वेंटिलेटर पर थे। रविवार रात अस्पताल में उनकी मौत हो गई। सोमवार को परिजनों ने रुड़की में अंतिम संस्कार किया।वहीं, ढंडेरा, मानकपुर आदमपुर गांव में भी बुखार फैला है। ग्रामीण इसे डेंगू बुखार बता रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ढंडेरा और मानकपुर आदमपुर में शिविर लगाया। ढंडेरा में बुखार से पीड़ित दस लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए हैं। मानकपुर आदमपुर में 28 बुखार पीड़ित मरीजों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। चार मरीज सिविल अस्पताल के डेंगू वार्ड में भर्ती हैं। संदिग्ध बुखार से क्षेत्र में कई लोगों की मौतें हो चुकी हैं। स्वास्थ्य विभाग इनमें से अधिकांश में डेंगू से मौत होने की बात से इनकार कर रहा है।

error: Content is protected !!