पीएम मोदी को उनके ऐतिहासिक फैसले लेने की वजह से याद किया जाता है और उन्होंने कई ऐसे फैसले लिए हैं, जिसकी वजह से उन्हें इतिहास में हमेशा याद रखा जाएगा.

Getting your Trinity Audio player ready...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 72वां जन्मदिन है. भारतीय जनता पार्टी समेत उनके प्रशंसक बड़े उत्साह से देशभर में उनका जन्मदिन मना रहे हैं. प्रधानमंत्री के व्यक्तिगत जीवन के साथ आज उनके पीएम पद पर रहते हुए किए गए कामों की भी बात की जा रही है.पीएम मोदी को उनके ऐतिहासिक फैसले लेने की वजह से याद किया जाता है और उन्होंने कई ऐसे फैसले लिए हैं, जिसकी वजह से उन्हें इतिहास में हमेशा याद रखा जाएगा.ऐसे में आज हम आपको उनके 25 ऐसे फैसलों के बारे में बता रहे हैं, जो भारत में ही नहीं अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी सुर्खियों में बने रहे. तो जानते हैं उन्होंने पीएम पद की शपथ लेने के बाद कौन-कौन से इतिहास फैसले किए हैं, जिनकी वजह से उनकी चर्चा होती है और उन्हें हमेशा याद किया जाएगा.

धारा 370- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त, 2019 को बता दिया था कि वे बड़े फैसले लेने का दम रखते हैं. दरअसल, इस दिन उन्होंने अपने घोषणा पत्र का अहम वादा और काफी लंबे समय से विवाद में चल रहे 370 पर फैसला लिया था. केंद्र सरकार ने धारा 370 खत्म करने के साथ ही कश्मीर के विशेषाधिकार खत्म कर दिए और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के रुप में दो केंद्र शासित प्रदेश बना दिए.

इंडिया गेट- इंडिया गेट पर जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ का राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जल रही लौ में विलय कर दिया गया.

बजट की तारीख- पीएम मोदी के सरकार में आने के बाद बजट की तारीख बदल दी गई. मोदी सरकार आने से पहले बजट फरवरी महीने की आखिरी तारीख 28 या 29 फरवरी को पेश किया जाता था. लेकिन, 1 फरवरी को बजट पेश होता है.

सीएए-एनआरसी– पीएम मोदी ने 10 जनवरी 2020 को नागरिकता संशोधन अधिनियम लागू किया और इस फैसले को भी उनका ऐतिहासिक फैसला माना गया. इस कानून के जरिए भारत के पड़ोसी देश में आए गैर-मुस्लिम प्रवासियों को नागरिकता देने का वादा किया गया. हालांकि, इसे लेकर देश में काफी विवाद हुआ था.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच से ही अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा है. उन्होंने 27 सितंबर 2014 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की बात संयुक्त राष्ट्र में कही थी. इसके बाद 21 जून 2015 में संयुक्त राष्ट्र के 177 सदस्यों द्वारा मान्यता मिल गई थी और उसके बाद से 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा.

जल शक्ति मंत्रालय- पीएम मोदी ने ही जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया. मोदी सरकार ने जल संसाधन और पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालयों को मिलाकर जल शक्ति मंत्रालय बनाया.

बालाकोट एयर स्ट्राइक- भारत में जब पुलवामा में अटैक हुआ तो पीएम मोदी ने पाकिस्तान को जवाब देने के लिए बालाकोट एयर स्ट्राइक करने का फैसला किया. भारत की सेना ने 26 फरवरी 2019 को एयर स्ट्राइक की थी और पाकिस्तान में जमकर बमबारी कर पाक को करारा जवाब दिया था.

नोटबंदी- नोटबंदी मोदी सरकार के सबसे अहम फैसलों में से एक है. 8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी ने यह फैसला किया था, जिसमें 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा की थी. हालांकि, इसकी बाद में काफी आलोचना भी हुई थी, मगर पीएम मोदी के इस फैसले को इतिहास हमेशा याद रखेगा.

सरकारी बैंकों का विलय- मोदी सरकार ने 1 अप्रैल, 2020 को मोदी सरकार ने देश के 10 सरकारी बैंकों का विलय करके 4 बड़े बैंक बनाने की घोषणा की थी. विलय होने वाले बैंकों में ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक, सिंडिकेट बैंक, इलाहाबाद बैंक,आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक शामिल रहे.

लॉकडाउन- जब देश में कोरोना वायरस दस्तक दे रहा था, तो पीएम मोदी ने देशव्यापी लॉकडाउन का फैसला किया था. इस फैसले को हमेशा याद रखा जाएगा. वैसे यह उस वक्त की जरूरत थी, लेकिन ऐसा ऐलान करने वाले पीएम मोदी पहले प्रधानमंत्री होंगे.

पीएम आवास का नाम- दिल्ली में रेस कोर्स रोड का नाम बदलकर लोक कल्याण मार्ग कर दिया गया, जहां प्रधानमंत्री का आवास स्थित है. इसके बाद से पीएम के घर को लोक कल्याण मार्ग के नाम से जाना गया.

विकलांग बना दिव्यांग- पीएम मोदी ने ही विकलांग शब्द के स्थान पर दिव्यांग शब्द इस्तेमाल करने की पहल की थी. पीएम मोदी के इस फैसले को काफी सराहा गया था.

सेंट्रल विस्टा- प्रधानमंत्री ने दिल्ली में सेंट्रल विस्टा की शुरुआत की है. इसके जरिए नई संसद का निर्माण किया जा रहा है और आसपास के क्षेत्र का कायाकल्प हो रहा है. ‘सेंट्रल विस्टा’ 20,000 करोड़ रुपये की पीएम मोदी की सबसे महत्वाकांक्षी और विवादास्पद परियोजना है.

सर्जिकल स्ट्राइक- पीएम मोदी ने पाकिस्तान के खिलाफ ये फैसला लेकर बता दिया था कि अब पाकिस्तान भारत की तरह आंख उठाकर देखने की हिम्मत ना करें. उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक करके पाकिस्तान में फैल रहे आतंक को जवाब दिया था.

राजपथ बना कर्तव्यपथ- राजपथ का नाम बदलकर कर्तव्यपथ कर दिया गया है. पीएम मोदी के इस फैसलों को वो हर व्यक्ति याद करता रहेगा, जो इस रास्ते से गुजरेगा.

किसान सम्मान निधि योजना- पीएम किसान योजना 1 दिसंबर, 2018 से लागू हुई थी. इस योजना के तहत, जमीन रखने वाले सभी पात्र किसान प्रति वर्ष 6,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त करने के योग्य हैं. राशि हर 4 महीने में 2,000 रुपये की 3 समान किस्तों में सीधे बैंक खाते में जमा की जाती है.

नीति आयोग- पीएम मोदी ने 1950 में जवाहरलाल नेहरू की ओर से बनाए गए योजना आयोग को 1 जनवरी, 2015 से नीति आयोग यानी नेशनल इंस्टीट्यूशन फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया (NITI) बना दिया.

जीएसटी- प्रधानमंत्री देश में समानता पर विश्वास रखते हैं और उन्होंने एक देश, एक टैक्स नीति के तहत जीएसटी लागू किया. नई नीति के तहत मिलने वाला टैक्स दो हिस्सों में बंटता है. 50 फीसदी केंद्र को जाता है और 50 फीसदी राज्य सरकार के पास. वित्तीय व्यवस्था में इसे सबसे बड़ा कदम माना गया था.

राम मंदिर की नींव- 5 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखी और भूमि पूजन के बाद मंदिर निर्माण का काम शुरू हुआ. ये खास पल भी इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है.

वन नेशन, वन राशन कार्ड- मोदी सरकार ने दूसरी बार सत्ता में आने के बाद ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना की शुरुआत की. इससे एक ही राशन कार्ड पर कोई भी व्यक्ति देश के किसी भी हिस्से में उचित मूल्य की दुकान से राशन ले सकता है.

नौसेना- हाल ही में पीएन मोदी ने इंडियन नेवी के नए नौसेना ध्वज (निशान) का भी अनावरण किया. जो ब्रिटिश काल के अतीत को दूर करते हुए समृद्ध भारतीय समुद्री विरासत के अनुरूप है.

तीन तलाक कानून- तलाक के तीन अहम तरीके माने जाते हैं, जिसमें तलाक-उल-बिद्दत, तलाक-ए-हसन और तलाक-ए-अहसन शामिल है. मोदी सरकार ने तलाक-उल-बिद्दत को असंवैधानिक घोषित कर दिया गया था, जिसे अक्सर तीन तलाक कहा जाता है. पीएम मोदी ने 19 सितम्बर, 2018 को यह फैसला किया था.

वॉर मेमोरियल- मोदी सरकार की ओर से भारत के लिए शहीद हुए जवानों के लिए वॉर मेमोरियल का निर्माण करवाया गया. यहां 25,942 सैनिकों के नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखे गए हैं. 25 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया था.

इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव- पीएम मोदी सरकार ने इनकम टैक्स में एक और स्लैब की शुरुआत कर दी, जिससे टैक्स पेयर्स अपनी सहूलियत के हिसाब से इसका फायदा उठा सकते हैं.

बिना छुट्टी काम करने का रिकॉर्ड: पीएम मोदी ने इस पद पर रहते हुए बिना छुट्टी लिए लगातार काम करने का ट्रेंड शुरू किया, जो आज भी जारी है.

error: Content is protected !!