आज *हिमालय बचाओ अभियान* के अंतर्गत *बिशंबर सहाय इंस्टीट्यूट, रुड़की* में अपने अध्यापक-अध्यापिका एवं छात्र-छात्राओं के साथ *हिमालय प्रतिज्ञा* कराई गई।

Getting your Trinity Audio player ready...

आज *हिमालय बचाओ अभियान* के अंतर्गत *बिशंबर सहाय इंस्टीट्यूट, रुड़की* में अपने अध्यापक-अध्यापिका एवं छात्र-छात्राओं के साथ *हिमालय प्रतिज्ञा* कराई गई।

इस अवसर पर संस्थान के सचिव चंद्र भूषण शर्मा ने कहा कि अब वह समय आ गया है जब हम सबको मिल जुलकर हिमालय बचाओ अभियान का हिस्सा बन अपने हिमालय को बचाएं यह केवल एक व्यक्ति, एक संगठन का ही कर्तव्य नहीं है यह बल्कि हम सब का कर्तव्य है की अपनी धरा को बचाएं।

इस अवसर पर संस्थान के कोषाध्यक्ष सौरभ भूषण शर्मा ने कहा कि हमें हिमालय को बचाने के लिए बहुत अधिक प्रयास करने होंगे हमें पॉलिथीन , भयानक रासायनिक पदार्थों एवं वातावरण को दूषित करने वाली वस्तुओं का इस्तेमाल भी रोकना होगा।

आज के भौतिक युग में हम सब यह भूल गए हैं कि हमारे इस भौतिक युग से हिमालय को कितना नुकसान हो रहा है यदि धरती पर हिमालय ही नहीं बचेगा तो जीवन बचना भी नामुमकिन है।

इस अवसर पर संस्थान के मैनेजिंग डायरेक्टर गौरव भूषण शर्मा ने कहा कि हमारी आने वाली नई पीढ़ी को यह देखना होगा कि हम ऐसी वस्तुओं का इस्तेमाल करें और अपनी जीवनशैली ऐसी बनाएं जिससे हम हिमालय को बचा सके और हिमालय को अधिक नुकसान ना हो सके।

इस अवसर पर शाजेब आलम ,दिवाकर जैन, मोहम्मद आबाद, विपिन कुमार, सुनील चौहान, सुधीर सैनी, परवीन कुमार, जितेंद्र रावत, संजना शर्मा, कुमारी वंदना आदि उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!