उत्तराखंड निषाद पार्टी और कश्यप समाज ने 25 जून को रुड़की व्यापार मंडल के अध्यक्ष और कश्यप समाज के नेता अरविंद कश्यप का पुतला दहन करने पर आक्रोश जताया।

Getting your Trinity Audio player ready...

निषाद पार्टी और कश्यप समाज ने विधायक प्रदीप बत्रा से सार्वजनिक रूप से माफी ना मांगने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है।

दरअसल 26 जून को रुड़की में राज्यसभा सांसद डॉ कल्पना सैनी के सम्मान में समारोह का आयोजन किया गया था। समारोह में कांग्रेस नेता व कश्यप समाज के नेता अरविंद कश्यप रुड़की व्यापार मंडल के अध्यक्ष होने के नाते समारोह में शामिल हुए। लेकिन ये बात रुड़की विधायक प्रदीप बत्रा को नागवार गुजरी और अगले दिन विधायक प्रदीप बत्रा के समर्थकों ने अरविंद कश्यप का पुतला दहन किया।प्रेस क्लब हरिद्वार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए अरविंद कश्यप का कहना है कि राजनीति से दूर हटके उन्होंने कल्पना सैनी के स्वागत में शहरभर में होर्डिंग्स लगाए। लेकिन यह तैयारी विधायक प्रदीप बत्रा को पची नहीं। इसलिए उन्होंने निचले स्तर की राजनीति दिखाते हुए और अपनी निजी खुन्नस निकालते हुए पुतला दहन किया। अरविंद कश्यप ने कहा कि इससे उनकी ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश के कश्यप समाज की भावनाएं आहत हुई हैं। इसे किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं किया जाएगा। निषाद पार्टी ने भी इस मामले की घोर निंदा की। निषाद पार्टी ने कहा कि भले ही हम भाजपा के साथ गठबंधन में हों। लेकिन प्रदेश के कश्यप समाज के अपमान को किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं किया जाएगा।

error: Content is protected !!