19वीं सदी के महान समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले जी की 195 वी जयंती धूमधाम से मनाई गई

रुड़की। लोकतांत्रिक जनमोर्चा रुड़की की ओर से हर वर्ष की भांति आज सोमवार को मलकपुर माजरा गांव स्थित डॉ अंबेडकर भवन में 19वीं सदी के महान समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले जी की 195 वी जयंती धूमधाम से मनाई गई । सभी ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प दोहराया तथा भारत सरकार से फुले दंपत्ति को भारत रत्न दिए जाने की पुरजोर मांग की गई।

वक्ताओं ने कहा कि महात्मा ज्योतिबा फुले ने तमाम उत्पीड़न व अत्याचार सहते हुए भी सामाजिक क्रांति की लौ को बुझने नहीं दिया। उन्होंने अपनी धर्मपत्नी माता सावित्रीबाई फुले जी को शिक्षा देने के उपरांत उन्हें देश की पहली महिला शिक्षिका होने का गौरव दिलाकर देश में नारी शिक्षा की अलख जगाई । महात्मा ज्योतिबा फुले के इस मिशन को उनके बाद डॉ भीमराव अंबेडकर ने आगे बढ़ाया। वक्ताओं ने कहा कि इन महापुरुषों के बताए रास्ते पर चलना ही आज उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी।‌ इस मौके पर लोजमो अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्ष सेवानिवृत्त शोध अधिकारी अजय कुमार, लोजमो महिला विंग की अध्यक्ष सरिता सैनी एडवोकेट, भाजपा नेता राजपाल माजरा, युवा मोर्चा शेरपुर शाखा के अध्यक्ष अंनत सैनी, प्रवीण सैनी, राजकुमार माजरा, सचिन सैनी, ओम सिंह सैनी, महेंद्र सिंह माजरा, अशोक सोनीवाल, विकास कुमार, सचिन वासी, अजीत सोनीवाल सहित कई लोग उपस्थित रहे। अन्त में मिष्ठान वितरण किया गया।

error: Content is protected !!