शिक्षक दिवस पर ही नहीं प्रत्येक दिन करें गुरूका सम्मान:-सौरभ भूषण शर्मा

Getting your Trinity Audio player ready...

रूपचंद शर्मा एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित *विशंभर सहाय ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस, रुड़की* में आज *शिक्षक दिवस* बड़ी धूम-धाम के साथ आयोजित किया गया।कार्यक्रम में सर्वश्रेष्ठ अध्यापकों को *शिक्षा सम्मान* के साथ *सम्मानित* किया गया।इस अवसर पर संस्थान के सचिन चंद्र भूषण शर्मा ने कहा कि गुरु का स्थान हमारी संस्कृति में ईश्वर के बराबर बताया गया है इसलिए हर एक को अपने गुरुओं का सम्मान करना चाहिए।

इस अवसर पर संस्थान की कोषाध्यक्ष सौरव भूषण शर्मा ने कहा कि आज के आधुनिक युग में नवयुवकों में संस्कारों का आभाव हो गया है जिस प्रकार पहले हम अपने गुरुओं को सम्मान करते थे उसमें कहीं ना कहीं आधुनिक युग में कमी आई है इसलिए युवा पीढ़ी को चाहिए कि वह संस्कार एवं शिक्षा दोनों अपने अध्यापकों से ग्रहण करें और हमेशा अपने अध्यापकों का सम्मान करें।

इस अवसर पर मैनेजिंग डायरेक्टर गौरव भूषण शर्मा ने कहा कि हर व्यक्ति की पहली गुरु उसकी माता होती है फिर जीवन में आगे चलकर शिक्षक उसके गुरु बनते हैं और जो गुरु का सम्मान करता है उसका जीवन हमेशा सम्मान, यश और कीर्ति से आगे बढ़ता है।

इस अवसर पर संस्थान ने बीटेक पाठ्यक्रम में श्री दिवाकर जैन जी एमबीए पाठ्यक्रम में श्री शहजेब आलम जी एवं वाणिज्य विभाग में शाहीन को उत्तम शिक्षा प्रदान करने पर *बीएसआई शिक्षा सम्मान* से सम्मानित किया।

इस अवसर पर विद्यार्थियों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम में दिवाकर जैन, शाहजेब आलम, श्रीमती संजना शर्मा,डॉक्टर कुनिका ,डॉक्टर लंबा,प्रवीण कुमार, सुधीर सैनी, जितेंद्र रावत, प्रदीप शर्मा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!