नकली दवा बनाने की फैक्टरी पकड़ी गई, एक गिरफ्तार

Getting your Trinity Audio player ready...

रुड़की। एसटीएफ ने नकली दवाई बनाने वाली फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है। फैक्टरी से विभिन्न कंपनियों की करीब 25 लाख रुपये की नकली एंटीबायोटिक दवा और इतनी ही कीमत का कच्चा माल भी बरामद किया गया है। यह फैक्टरी हरिद्वार के ग्राम मतलबपुर में एक घर में चल रही थी। मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया, काफी समय से एसटीएफ की एएनटीएफ टीम को हरिद्वार क्षेत्र में नकली दवाइयों के संबंध में सूचना मिल रही थी। जिस पर गोपनीय तौर पर जानकारी जुटाई गई। जिसके बाद मंगलवार को टीम ने हरिद्वार के ग्राम मतलबपुर में एक घर में छापा मारा और वहां से बड़ी संख्या में नकली दवा बनाने वाली मशीनें, नकली रैपर, कच्चा माल़, इत्यादि बरामद किया।

टीम ने थाना गंगनहर क्षेत्र से एक आरोपी अमित धीमान निवासी मतलबपुर को लगभग 25 लाख की नकली दवाओं के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी ने बताया कि वह यह दवाइयां कुरियर के माध्यम से अलग-अलग राज्यों में भेजता है। एसएसपी ने बताया कि एसटीएफ की कार्रवाई अभी जारी है। आरोपी के उन साथियों की भी तलाश की जा रही है जो फैक्टरी में नकली दवाइयां बनाने में साथ देते थे। आरोपी के अपराधी इतिहास की भी जानकारी की जा रही है।18 लाख पैक्ड दवाइयां अलग-अलग कंपनियों की बरामद हुई। पांच लाख खुली दवाइयां,पांच बड़ी मशीनें। 20 कट्टे कच्चा माल।

पांच बंडल दवाइयों के प्रिंटेड रैपर भी बरामद हुए हैं। जानकारी के लिए बता दे कि रुड़की और भगवानपुर क्षेत्र में नकली दवाइयों का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। पहले भी यहां कई बार कार्रवाई भी हो चुकी है, लेकिन न तो पुलिस और न ही ड्रग्स विभाग इस पर अकुंश लगा पा रहे हैं। इससे पहले भी एसटीएफ यहां पांच-छह बार कार्रवाई कर चुकी है, लेकिन इसके बावजूद नकली दवाइयों का कारोबार धड़ल्ले से जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!