सनसनी खेज हत्या कांड का खुलासा

Getting your Trinity Audio player ready...

हत्या में शामिल 4 शातिर अपराधियों को हत्या में प्रयुक्त आलाकत्ल मय अन्य सामान के साथ 48 घंटे के अंदर रुड़की पुलिस द्वारा किया गिरफ्तार ।दिनांक 09.11.2022 को कोतवाली रुड़की पर टेलीफोन के जरिये सूचना प्राप्त हुयी कि एक अज्ञात व्यक्ति का शव राजविहार कालोनी ढुण्डेरा से ग्राम बिजौली जाने वाले चक रोड के किनारे गन्ने के खेत मृत अवस्था में पड़ा हुआ है,सूचना पर प्रभारी निरीक्षक मय फोर्स के घटना स्थल पर पहुंचे, घटना स्थल पर पाया कि एक व्यक्ति पीट के बल पड़ा हुआ था जिसके सर, चेहरे पर गम्भीर चोट व मृतक के पेट व गुप्तांग पर चाकू के कट के निशान दिख रहे थे आस-पास काफी मात्रा में खून विखरा हुआ था घटना की संवेदनशीलता को देखते हुये तत्काल उच्चाधिकारीगणों को अवगत कराया गया व घटना स्थल को सुरक्षित करते हुये मौके पर फील्ड यूनिट व सी0आई0यू0 रुड़की की टीम को बुलाया गया। मौके पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय व क्षेत्राधिकारी महोदय रुड़की को भी दी,सूचना पर घटना स्थल का निरीक्षण करने पहुंचें,पुलिस अधीक्षक ग्रामीण हरिद्वार द्वारा घटना स्थल का अवलोकन कर अधीनस्थ अधिकारियों तथा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रुड़की को घटना का तत्काल अनावरण करने तथा आरोपियों को गिरफ्तारी हेतु कड़े निर्देश दिये गये । तथा मृतक के फोटो ग्राप्स व वीडियों बनाकर आस-पास के क्षेत्र, व जनपदो में शिनाख्ती के उद्देश्य से प्रेषित किये गयें, आस-पास के लोगों को भी फोटोग्राफ दिखाकर शिनाख्ती के अथक प्रयास करने के बाद भी मौके पर शिनाख्त नही हो पायी।घटना की संवेदनशीलता को देखते हुये कर्म0गणो की 2-2 की संख्या में टीम बनाकर फोटो व वीडियों को आस-पास केगांव, मोहल्ले, ईट भट्टो व अन्य मजदूरो के ठिकाने पर भौतिक रुप से व सोशल मिडिया के माध्यम से वटसअप /फेसबुक आदि के माध्यमो से शिनाख्ती के प्रयास शुरु किये। अन्ततः अथक प्रयास के बाद मृतक की शिनाख्त सचिन उर्फ काका पुत्र घनश्याम निवासी मोहनपुरा मोहम्मदपुर कोतवाली रुड़की के रुप में की।

पुलिस कार्यवाही-रुडकी क्षेत्र मे राजविहार कालोनी ढण्डेरा में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा एक व्यक्ति की निर्ममता पूर्वक हत्या करने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद हरिद्वार श्री अजय सिह द्वारा स्वतः सज्ञान लेते हुये श्री विवेक कुमार क्षेत्राधिकारी रुड़की व प्रभारी निरीक्षक रुड़की को घटना का तत्काल अनावरण कर अभियुक्ततो की गिरफ्तारी हेतु निर्देश दिये गये तथा पुलिस अधीक्षक ग्रामीण को भी अभियोग में की जा रही पुलिस कार्यवाही की समय-समय पर अध्यावधिक स्थिति ज्ञात करने हेतु निर्देशित किया गया ।

अभियोग का पंजीकरण-थाना कोतवाली रुडकी पर वादी घनश्याम पुत्र कबूल सिह निवासी मोहनपुरा मोहम्मदपुर कोतवाली रुड़की द्वारा कि तहरीर के आधार पर दिनांक 09.11.2022 को मु0अ0सं0 794/2022 धारा 302 बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया आरोपी की गिरफ्तारी एवं माल बरादगी-मृतक की शिनाख्त होने के पश्चात मृतक के परिजनो से जानकारी की गयी तो मृतक की पत्नी श्रीमती मनीषा द्वारा बताया कि सचिन उर्फ काका रोशनाबाद हरिद्वार में चाट की ठेली लगता था जो अपने माता- पिता व भाई के साथ अमूमन वही रहता है तथा दीपावली में अपने घर आया था और लालकुर्ती में पटाखे की दुकान भी लगायी थी उसने पैसो की जरुरत के कारण अपना मोबाइल फोन इलियास निवासी ढण्डेरा के पास 1000/- रुपये में गिरवी रख दिया था व दिनांक 8.11.2022 को घर के कबाड बेचने से प्राप्त 1100/- रुपये को करीब 3 बजें लेकर मोबाईल छुडाने के लिये अपनी मो0सा0 से गया था, इस पर गहनता से इलियास नामक व्यक्ति से जानकारी करने पर घटना वाले दिन उसके साथ शादाब उर्फ पल्कू व आसिफ उर्फ बोन्नी, शेरु उर्फ आमिर का होना प्रकाश में आया जब सचिन उर्फ काका मोबाइल लेने इलियास के पास गया था तो तीनों उसके साथ थे और बाद में इलियास के घर से सचिन अपना मोबाइल लेकर शादाब उर्फ पल्कू के साथ मो0सा0 गया था। इस पर पुलिस टीम द्वारा शादाब उर्फ पल्कू,आसिफ उर्फ बोनी, शेरु उर्फ आमिर की तलाश की गयी तो तीनो अपने घरो से फरार थे दिनांक 11.11.2022 को जब पुलिस टीम अभियुक्तगणों धरपकड़ हेतु थाना क्षेत्र में मामुर थी तो अभियुक्तगणो को लगा की पुलिस हरकत में आ गयी है उन्हें सब पता चल गया है इस पर तीनो व्यक्ति भागने की फिराक में क्षेत्र से निकने की योजना बना रहे थे कि पुलिस टीम द्वारा मुखबिरान की सूचना पर शिव मन्दिर के आगे मस्जिद के पास ढण्डेरा रुड़की से सायं गिरफ्तार किया गया।मोटर साईकिल की गुत्थी सुलझी घटना स्थल से मोटर साईकिल की जानकारी हेतु सीसीटीवी फुटेज देखने वाली टीम द्वारा थाना क्षेत्रान्तर्गत के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये तो टीम द्वारा एक वीडियो फुटेज प्राप्त की जिसमें एक व्यक्ति मो0सा0 ले जाता दिखाई दिया जिसकी तालाश कि गयी तो उक्त व्यक्ति का नाम गौतम पुत्र पवन निवासी कर्नल इन्कलेव रुडकी जनपद हरिद्वार उम्र 24 वर्ष प्रकाश में आया जिसकी तलाश की गयी तो आज दिनांक 12.11.2022 को विश्राम तिराहा से तासीपुर रोड की तरफ लगभग 100 मीटर आगे उक्त व्यक्ति को पकड़ लिया जिसकी निशादेही पर मृतक की मो0सा0 को झाडियों से बरामद किया गया ।गिरफ्तार अभियुक्तगणों के नाम पता 1. शादाब उर्फ पल्कू पुत्र नूर हसन उम्र 22 वर्ष निवासी मन्दिर से आगे मस्जिद के पास ढण्डेरा कोतवाली रूड़की जनपद हरिद्वार 2. शेरू उर्फ आमीर पुत्र शहनवाज उम्र 19 वर्ष निवासी ग्राम ढण्डेरा कोतवाली रूड़की जनपद हरिद्वार 3. आसिफ उर्फ बोनी पुत्र गुलफाम उम्र 20 वर्ष निवासी कीर्तीनगर ढण्डेरा कोतवाली रूड़की जनपद हरिद्वार 4-गौतम पुत्र पवन निवासी कर्नल इन्कलेव रुडकी जनपद हरिद्वार उम्र 24 वर्ष ।

माल बरामदगी-

1- आलाकत्ल- एक (चारपाई) लोहे का पाया जिसमें खून के धब्बे हैं।

2- घटना स्थल से एक सब्जी काटने वाला चाकू खून से सना

3-घटना स्थल से मृतक के जूते

4-घटना स्थल से स्टड कम्पनी का एक हेलमेट

5-अभियुक्त शेरु उर्फ आमीर के कब्जे से मृतक सचिन उर्फ काका का मोबाइल फोन सैमसंग

6-अभियुक्त आसिफ उर्फ बोनी के कब्जे से मृतक का पर्स जिसमें मृतक सचिन उर्फ काका का आधार कार्ड

7-अभियुक्त गौतम के कब्जे से मृतक सचिन की मोटर साईकिल

हत्या का उद्देश्य व तरीका- आरोपी से पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ अभियुक्त शादाब उर्फ पल्कू पुत्र नूर हसन मन्दिर से आगे मस्जिद के पास ढण्डेरा कोतवाली रूड़की जनपद हरिद्वार व मृतक सचिन उर्फ काका पुत्र घनश्याम निवासी मोहनपुरा मोहम्मदपुर रुड़की हरिद्वार दोनों पूर्व में घनिष्ठ दोस्त थे व नशे के आदि थे, करीब 02 वर्ष पूर्व दोनों को गोल भट्टा क्षेत्र का आपसी मनमुटाव के कारण झगडा हो गया था जिसमें मृतक सचिन उर्फ काका ने शादाब उर्फ पल्कू में पीटा था घटना से कुछ दिन पहले भी दोनों में फिर झगडा हो गया था इसी झगड़े को लेकर शादाब उर्फ सचिन उर्फ काका से मन मे दुश्मनी रखने लगा था। दिनांक 08.11.2022 शादाब उर्फ पल्कू ढण्डेरा क्षेत्र मे घुमते हुये अचानक सचिन उर्फ काका से मिला व उसने सचिन से बातचीत की फिर दोनो सचिन उर्फ काका की मो0सा0 पर सवार होकर नशा करने के लिये जाने लगे तो रास्ते में पल्कू ने अपने पहचान के दुकानदार से चारपाई के लोहे का पाया घर की जरुरत बताकर लिया फिर राजविहार कालोनी से आगे समाधि पर गन्ने के खेतो में एकान्त में गये जहा पर योजना के तहत पल्कू ने सचिन उर्फ काका को अधिक नशा कराकर रात्रि के समय उसे समाधि से राजविहार कालोनी की तरफ चलने को कहा फिर मो0सा0 को सचिन नशे में लहराता हुआ चलाने लगा और हेल्मेन्ट बाईक के पीछे बंधा हुआ था जैसे ही बाइक गन्ने के खेतो के बीचो-बीच चक रोड़ पर पहुंची तो शादाब उर्फ पल्कू ने एक दम से झटका दिया जिससे मो0सा0अनियन्त्रित होकर नीचे गिर गयी और दोनों नीचे गिर गये। और शादाब ने सचिन उर्फ काका के सिर पर (चारपाई )लोहे के पाये से तथा चेहरे पर तीन- चार वार किये जब सचिन उर्फ काका अधमरा हो गया तो फिर पल्कू ने पहले से अपने पास रखे सब्जी काटने के चाकू से सचिन उर्फ काका के चेहरे व पेट पर खुंदक में वार कर दिया जिससे कि उसकी चेहरे की बनावट बिगड़ जाये और उसे कोई पहचान न सके। फिर पल्कू ने मृतक के जेब से एक मोबाइल फोन निकाल लिया उसकी टार्च जलाकर सचिन की जेबे टटोल रहा था कि शेरू वहां पहुंच गया और सचिन को खेत में पड़ा देखकर शेरु नें मोबाइल फोन की रोशनी में पल्कू को पहचान लिये और कहा क्या कांड कर दिया, पल्कू ने शेरु को सचिन के मोबाइल फोन का लालच देकर सचिन उर्फ काका का मोबाइल फोन शेरु को दे दिया, उसके बाद बोनी भी लडखडाता हुआ मौके पर पहुचकर कहने लगा कि भाई क्या कांड कर दिया इस पर शेरु ने बोनी को सचिन उर्फ काका का पर्स देकर कहा कि यह रख ले इसमे 100/- रुपये है। फिर तीनों ने घटना का जिक्र किसी से न करने का वादा करके मौके से लोहे का पाया अपने साथ लेकर तीनो वहां से चलते बनें और शादाब उर्फ पल्कू के पास जो सब्जी काटने का जो चाकू था आनन फानन में वही छूट गया फिर तीनो पैदल -पैदल थोड़ा आगे चलकर (चारपाई )/लोहे के पाये को पल्कू ने चक रोड़ से राजविहार कालोनी के मुख्य मार्ग को जाने वाले तिराहे पर हाथ से दाहिनी तरफ एक गन्ने के खेत में अन्दर फैक दिया। जब अभियुक्तो से मोटर साईकिल के बारे में सख्ती से पूछताछ की तो तीनो ने एक ही स्वर में जवाब दिया कि मो0सा0 को हम लोग वही घटना स्थल पर छोडकर आये थे।

पुलिस टीम:-

श्री देवेन्द्र सिंह चौहान प्रभारी निरीक्षक रुड़की

उ0नि0 जहांगीर अली – प्रभारी एस0ओ0जी0 रुड़की

व0उ0नि0 प्रदीप तोमर कोतवाली रुड़की

उ0नि0 महेन्द्र पुण्डीर कोतवाली रुड़की

उ0नि0 देवेन्द्र पाल सिह- कोतवाली रुड़की

हे0कानि0 अहसान अली- एस0ओ0जी0 रुड़की

कानि0 177 अशोक – एस0ओ0जी0 रुड़की

कानि0 822 कपिल – एस0ओ0जी0 रुड़की

कानि0 201 सुरेश – एस०ओ०जी० रुड़की

कानि0 रविन्द्र खत्री- एस0ओ0जी0 रुड़की

कानि0 महिपाल- एस०ओ०जी० रुड़की

कानि0 656 प्रदीप कोतवाली रुड़की

कानि0 205 नापु0 मेजर सिह-कोतवाली रुड़की

कानि0 125 भीम दत्त -कोतवाली रुड़की

कानि0 608 नापु0 वीरेन्द्र कोतवाली रुड़की

कानि0 797 राम सिह धामी- कोतवाली रुड़की

कानि0 अरविन्द कुमार – कोतवाली रुड़की

कानि0 95 नापु0 सुरेन्द्र कोतवाली रुड़की

संवादाता: अनूप सैनी, मुनीश शर्मा समर्थ भारत न्यूज

 

 

समर्थ भारत न्यूज़
समर्थ भारत न्यूज
error: Content is protected !!