हैवानियत: मां और 6 साल की मासूम के साथ कार में सामूहिक दुष्कर्म , दो बार की गई सर्जरी।

Getting your Trinity Audio player ready...

उत्तराखंड के रुड़की से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां शुक्रवार देर रात महिला और उसकी छह साल की बेटी को कार में लिफ्ट देकर कार सवारों ने उनके साथ गैंगरेप किया।

इस वारदात के बाद आरोपी मां-बेटी को गंग नहर किनारे फेंक कर मौके से फरार हो गए। महिला लहूलुहान हालत में अपनी बेटी को लेकर पुलिस के पास पहुंची और घटना की जानकारी दी। पुलिस ने गंभीर हालत में बच्ची को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती करवा दिया है। इस मामले में पुलिस ने मां की तहरीर पर गैंगरेप समेत कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

दरअसल, शुक्रवार की देर रात कलियर क्षेत्र की निवासी एक महिला अपनी छह साल की बेटी के साथ किसी काम से रुड़की आ रही थी। वह कलियर में गंग नहर किनारे गाड़ी का इंतजार कर रही थी। जैसे ही महिला ने एक कार को आता देखा तो उसे रुकने का इशारा किया और लिफ्ट मांगी। कार सवारों ने महिला और बच्ची को कार में बैठा लिया और डरा धमकाकर उसके साथ गैंगरेप किया। जब उन्होंने शोर मचाया तो उन्हें जान से मारने की धमकी दी।

वारदात को अंजाम देने के बाद कार सवार मां और बेटी को गंग नहर पटरी के पास फेंक कर फरार हो गए। उसके बाद महिला बेटी को लेकर सिविल लाइंस कोतवाली पहुंची और पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने तुरंत बच्ची को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। साथ ही महिला को साथ लेकर गंगनहर पटरी और रुड़की व आसपास कार सवारों की तलाश शुरू की, लेकिन रात के अंधेरे में कुछ हाथ नहीं लगा।

इस पर एसपी देहात प्रमेंद्र सिंह डोभाल ने बताया कि शुक्रवार की रात महिला की तहरीर पर गैंगरेप समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया था। अभी तक की जांच में सामने आया है कि महिला के साथ उस वक्त एक युवक था और रुड़की आने के लिए सवारी का इंतजार कर रहा था। युवक के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। जल्द ही पूरी घटना का खुलासा हो जाएगा।

बच्ची की हालत गंभीर

बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए रात में ही उसकी सर्जरी करने पड़ी। इस पर सीएमएस डॉ. संजय कंशल ने बताया कि एक सर्जरी शुक्रवार रात को और एक शनिवार को गई है। बच्ची का 3 घंटे तक ऑपरेशन चला। मासूम की निगरानी के लिए डॉक्टरों की टीम को लगाया गया है। बच्ची की हालत में अभी कुछ सुधार आया है। पूरी कोशिश की जा रही कि बच्ची को जल्द ही ठीक कर घर भेजा जा सके।

जांच के लिए चार टीमों का किया गठन

गैंगरेप की सनसनी घटना के खुलासे के लिए पुलिस की चार टीमें जांच में जुट चुकी हैं। रुड़की, कलियर और आसपास लगे सभी सीसीटीवी कैमरों को बारीकी से खंगाला जा रहा है। साथ ही सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है।

error: Content is protected !!