हरिद्वार के डीएम कार्यालय में कर्मचारी ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में ये लिखा

Getting your Trinity Audio player ready...

हरिद्वार के कलेक्टर भवन के एक कर्मचारी ने सुसाइड कर लिया. इस कर्मचारी ने खुद को कमरे में बंद कर लिया था. जब अन्य कर्मचारियों को अनहोनी की आशंका हुई तो उन्होंने पुलिस बुलाई. पुलिस को घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला है

हरिद्वार: रोशनाबाद स्थित कलेक्टर भवन में कनिष्ठ सहायक के पद पर तैनात एक कर्मचारी ने कार्यालय में ही जान दे दी. मौके से पुलिस को सुसाइड नोट भी प्राप्त हुआ है, जिसमें उसने अपनी मौत का जिम्मेदार खुद को ही बताया है.डीएम कार्यालय में सुसाइड से हड़कंप डीएम कार्यालय में कर्मचारी ने की आत्महत्या: पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार कमल कुमार 28 वर्ष निवासी थाना सिद्दीकुल कलेक्टर भवन में आरटीआई अनुभाग में कनिष्ठ सहायक के पद पर था. कमल कुमार मृतक आश्रित के तौर पर विभाग में भर्ती हुआ था. सोमवार को सभी कार्यालय से छुट्टी के लिए निकल गए थे. कुछ कर्मचारी ही कार्यालय में थे. इस बीच कार्यालय में कमरा नंबर 222 में कमल ने कमरे में अंदर से कुंडी लगाकर बंद कर ली.कर्मचारी ने कमरा बंद करके आत्महत्या कर ली

दफ्तर में दरवाजा बंद करके की आत्महत्या: पुलिस ने बताया कि कर्मचारियों ने अनहोनी की आशंका होने के चलते पहले दरवाजा खटखटाया. अंदर से कोई जवाब ना मिलने पर मामले की जानकारी पुलिस को दी गई. सोमवार की रात करीब 11:00 बजे पुलिस को सूचना मिली. जिस पर तुरंत पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची. अंदर कमल पंखे पर फंदे से लटका हुआ मिला.

सुसाइड नोट में ये लिखा: जानकारी देते हुए हरिद्वार के सिडकुल थाना प्रभारी नरेश राठौर ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है. मौकं पर एक सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में कमल ने लिखा है कि वह अपनी मौत का जिम्मेदार खुद है. इसके बावजूद पुलिस मामले की हर एंगल से जांच कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!